Posts

Showing posts from February, 2010

HOLI

फागुन आया उड़ रहा अबीर और गुलाल
होली में सब मस्त हुए
किसका पूछे हाल बसंती रंगो में डूबे खिला हास परिहास फागुन में मदमस्त हुए सब छाया उल्लास
सरसों फूली टेसू महका
खिला हरसिंगार पीली चुनर ओढ़करप्रकृति ने किया श्रृंगार .